स्वथ्य और फिट रहने के लिए हमे ये करना चाहिए

0

हेल्लों दोस्तों बहुत बार बहुत काम की चीज़ को देख ही नहीं पाते है आज हम आपको उस चीज़ के बारे में बताने वाले हैं जो आपके स्वास्थ्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण है और वो चीज़ है आपकी नींद जी हां दोस्तों बिल्कुल ठीक सुना आपने आपकी नींद का आपकी सेहत से सीधा संबंध है अब आपके मन में यह सवाल उठ रहा होगा कि अगर ऐसा है तो हमें कितने घंटे नींद लेनी चाहिए?

तो दोस्तों जवाब है कि इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप कितने सोते हैं बल्कि जिस चीज से फर्क पड़ता है वो है आपकी नींद की गुणवत्ता जो काम 4 घंटे की नींद नही करती वो आधे घंटे की गुणवत्ता भरी झपकी कर देती है तो हम आपको ऐसे तीन काम बताते हैं जिससे आप अपनी नींद की गुणवत्ता को बढ़ा सकते हैं।

Also Read – 

शरीर की गांठ को कैसे खत्म करे

चेहरे के अनचाहे बालों को कैसे हटाये

दिमाग के बहुत धनी होते है इस ब्लड ग्रुप के लोग

अपने ऊपर नियंत्रण रखें

अपने ऊपर नियंत्रण रखने का मतलब है कि या तो आप कोई काम ना करें या फिर करें तो पूरे मन व ताकत से करें अगर आप कोई काम बिना मन के करते हैं तो आप आलसी बन जाते हैं जिससे आपको नींद आने लगती है जो कि आपकी सेहत के लिए बिल्कुल ठीक नही है नींद दो प्रकार की होती है एक होती है जो दिमाग के थकने पर आती है और एक जो शरीर के थकने पर आती है जब आप किसी काम से उब जाते तो आपका दिमाग उस काम में नही लगता और वह दुनिया भर की बातें सोचने लगता है जिसकी वजह से दिमाग थक जाता है और हमें नींद आती है। लेकिन शरीर थका हुआ नही होता इसलिए नींद भी अच्छे से नही आती और उठने पर हमें सिर में या शरीर में दर्द होने लगता है।

व्यायाम करें

जब हमें शरीर की थकावट की वजह से नींद आती है तो वह हमारे लिए अच्छी होती है क्योंकि तब शरीर व दिमाग दोनों को आराम मिलता है और इसलिए जब हम जागते हैं तो पूरी तरह से जागते हैं जिससे हम बहुत अच्छा महसूस करते हैं और ऊर्जा से भरे रहते हैं। लेकिन शरीर को थकाए कैसे? इसका उत्तर है व्यायाम करके व्यायाम का यह उद्देश्य नही है कि हमें अपना शरीर फौलादी बनाना है बल्कि शरीर को थकाना व्यायाम का उद्देश्य है जिससे आपकी नींद साथ ही साथ आपकी सेहत अच्छी हो सके।

ध्यान दें आपने सुना होगा कि हमें कम से कम 8 घंटे सोना चाहिए पर आप क्या सही में 8 घंटे सोते हैं आधा घंटा तो नींद आने में ही लग जाता है और अधिक तर नींद हमारी कच्ची होती है जो हमारे लिए जरूरी नही होती हमारे लिए पक्की नींद जरूरी होती है जिसे पाने के लिए हमारा मन शांत होना चाहिए सोने से पहले हमें कुछ सोचना नही चाहिए बल्कि ध्यान देना चाहिए जिसे मेडिटेशन भी कहते हैं ताकि हमारी अधिकतर नींद पक्की हो पक्की नींद 5-6 घंटे भी काफी है अगर आप सोने से पहले मेडिटेशन करते हैं तो आपकी नींद 5-6 घंटो में अपने आप ही खुल जाती है।

आप इन बातों को ध्यान में रखेगे तो हमेशा स्वथ्य और फिट रहोगे आपको कैसी लगी पोस्ट हमे जरूर बताये ऐसी ही और जानकारी लेने के लिए हमे फॉलो जरूर करे।