मोबाइल सिम को पोर्ट करने के लिए सरकार ने लिया एक अहम कदम

हाल में ही सरकार ने एक नया कदम उठाया है टेलीकॉम के क्षेत्र में रिलायंस जियो के आगमन से जहाँ ग्राहकों को फायदा हुआ है वही बाकि कंपनियों को इसके चलते नुकसान उठाना पड़ा है हाल ही में अन्य टेलीकॉम कंपनियों ने घाटे में जाने के कारण ग्राहकों से हर महीने पैसे वसूलने के लिए मिनिमम रिचार्ज को लागू कर दिया है जिससे परेशान होकर ग्राहक दूसरी कंपनियों में पोर्ट कर रहे हैं लेकिन ट्राई को मिली शिकायत के अनुसार सभी कंपनियां मनमानी कर रही हैं और ग्राहकों के पोर्ट आवेदन को अस्वीकार कर रही हैं।

सरकार ने उठाया ये कदम

टेलीकॉम कंपनियों की बढ़ती मनमानी के चलते टेलीकॉम रेगुलेटरी ऑथोरिटी इंडिया ने कड़ा कदम उठाया है जिसके तहत अब मोबाइल नम्बर को पोर्ट कराना पहले से आसान होगा अगर कोई ग्राहक नम्बर पोर्ट के लिए आवेदन करता है तो कंपनी को इसका जवाब 48 घंटे में देना होगा साथ ही अगर कंपनी इस प्रोसेस में देरी करती है तो उसके खिलाफ 10 हजार रुपए का जुर्माना लगाया जाएगा।

2 दिन में हो जाएगा नम्बर पोर्ट

इसके अलावा ट्राई ने ग्राहकों की सुविधा के लिए मोबाइल नम्बर को पोर्ट करना आसान कर दिया है जहाँ पहले 7 दिनों का समय मोबाइल नम्बर पोर्ट होने में लगता था वही केवल 2 दिनों में नम्बर पोर्ट हो जाएगा जबकि दुसरे सर्किल में पोर्ट करने के लिए 4 दिनों का समय लगेगा इस सुविधा से मोबाइल नम्बर पोर्ट कराने वाले ग्राहकों को फायदा होगा और वे 7 दिनों की जगह केवल 2 दिनों में अपना नम्बर पोर्ट करा पायेंगे।

इन ग्राहकों को होगा फायदा

मोबाइल नम्बर पोर्ट की समय सीमा आने वाले समय में 2 दिन हो जायेगी जिसका फायदा ऐसे ग्राहकों को होगा जो मौजूदा कंपनी के महंगे प्लान्स की मार झेल रहे हैं वे आसानी से किसी भी दूसरी कंपनी में पोर्ट कर सकेंगे हाल ही में मिनिमम रिचार्ज के बाद से ग्राहकों ने अपनी सिम को अन्य कंपनियों में पोर्ट कराना शुरू कर दिया है 2 दिन में पोर्ट कराने की प्रक्रिया को अप्रैल माह से शुरू किया जा सकता है।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं जानकारी पसंद आई तो लाइक ओर शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Join The Discussion