1 जनवरी से देश भर में होगी ये सुविधा बंद क्या आप जानते है

बहुत बदलाव हो रहे है हमारे भारत में उनमे से एक ये भी है अगर आप किसी भी तरह का पोस्ट पेड पेपर बिल का इस्तेमाल करते है तो अब यह सुविधा हमेशा के लिए बंद होने जा रही है देश में मौजूद सभी टेलिकॉम नेटवर्क की कंपनियां हर दिन कई तरह के प्रीपेड प्लान लांच कर रही है और ग्राहकों को पसंद भी आ रहा है.लेकिन फिर भी देशभर में कई गुना ग्राहक ऐसे भी है, जिन्हें टेलिकॉम नेटवर्क का पोस्ट पेड प्लान पसंद है और बार बार प्रीपेड प्लान रिचार्ज करने से छुटकारा पाने के लिए पोस्ट पेड और मासिक या वार्षिक बिलिंग प्लान को ही लेना ज्यदा बेहतर समझते है अब ऐसे ग्राहकों के लिए सरकार एक नया कदम उठाने जा रही है।

इन्हें भी जरूर पढ़ें – 

1 दिसंबर से फ़ोन पर लागू होंगे ये नियम आप भी जरूर पढ़ें

SBI ने एटीएम को लेकर किया बड़ा खुलासा लोगो की हुई परेशानी

दरअसल पोस्ट पेड प्लान इस्तेमाल करने वाले सभी ग्राहकों के घर टेलिकॉम कंपनियां प्लान का बिल पेपर प्रिंट के जरिये देती है जिसके कारण पर्यावरण को काफी हद तक नुकसान पहुंचता है,क्योंकि पेपर बिल और पेर बैग को बनाने के लिए हज़ारों की संख्या में पेड़ काटे जाते है देश में इस भारी नुकसान को कम करने के लिए सरकार सभी टेलिकॉम कंपनियों के साथ बैठक करने जा रही है।

एक पुख्ता खबर के मुताबिक सरकार देश के सभी बड़े टेलिकॉम कंपनियों को,पेपर बिल बंद करने और इलेक्ट्रॉनिक बिल का इस्तेमाल करने का कड़ा आदेश दे सकती है यही चीज अब बिजली के बिल के साथ भी किया जा सकता है जिन ग्राहकों को अब तक बिजली और पोस्ट पेड सर्विस का बिल पेपर पर मिलता था अब उन्हें इलेक्ट्रॉनिक बिल के माध्यम से मिलेगा।

आप भी इन बातों का ध्यान रखे आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये अगर जानकारी पसंद आयी तो लाइक और शेयर जरूर करें ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Kiran Kashyap

मैं किरण कश्यप एक हिंदी ब्लॉगर हूं हिंदी भाषा की इस website पर आपको वो जानकारी उपलब्ध करवाना चाहती हूँ जो आपकी life के लिए बहुत जरुरी है आपको हमारी इस website पर कुछ ऐसी जानकारी मिलेगी जो आपको कही नहीं मिलेगी हमारा हमेशा से यही प्रयास रहा है कि हम आपको आपकी life की अच्छी जानकारी दे। www.askinhindi.in आप हमारी website को जरूर फॉलो करें।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *