हफ्ते में कितनी बार शैम्पू करना चाहिए क्या आप जानते है

0

आज के समय में बालो में सभी शैम्पू करते है इसलिए हम आज इस टॉपिक पर जानकारी लाये है सबसे पहले यह जानते हैं कि शैम्‍पू करने से बालों पर क्‍या प्रभाव पढ़ता है बाल एक प्रकार का नैचुरल ऑइल उत्सर्जित करते हैं, जिसे सीबम कहा जाता है और शैम्‍पू एक एम्‍लसिफायर है, जो बालों से ऑइल, डर्ट व अन्‍य प्रकार के नुकसानकारक प्रोडक्‍ट को हटाता है।

जिनके बाल पतले होते है या जो अधिक शारीरिक परिश्रम करते है जिससे ज्यादा पसीना आता हो या जो लोग उमस भरे वातावरण में रहते हो, उनके द्वारा अपने बालों को रोज शैम्‍पू करना ठीक है यदि स्कैल्प ज्यादा ऑइली हो, तो रोज़ शैम्‍पू करना जरूरी व फायदेमंद होता है।

इसके विपरीत जिनके बाल थिक व ड्राई या घुँघराले हो, उन्‍हें बालों को कम ही शैम्‍पू करना चाहिए अगर बालों को धोना ही है, तो शैम्‍पू के बजाय कंडिशनर का इस्‍तेमाल करना बेहतर है।

यदि बालों को किसी प्रकार का स्‍टाईलिश लुक दिया गया हो तो, उस स्थिति में बालों को कम शैम्‍प करना ही सही है अगर बालों को स्‍टाईलिश लुक देने के लिए किसी हीटिड टूल का इस्‍तेमाल करना हो, तो इस बात का ध्‍यान रखे कि बाल बिल्‍कुल साफ हो ऐसा करने से बालों की मजबूती बरकरार रहेंगे व बाल आकर्षक भी दिखेंगे और साथ ही अपने स्‍टाईलिश लुक को बनाये रखने के लिए बार-बार इन टूल्‍स का इस्‍तेमाल नहीं करना पड़ेगा।

अगर बालों को रोज शैम्‍पू करने के बजाय हर दूसरे दिन किया जाएं तो बेहतर और यदि हर तीसरे दिन करे तो और भी बढि़या है अगर हफ्ते में एक बार करने से आप संतुष्‍ट है, तो इससे बेहतर क्या होगा शैम्‍पू करने के एक ही दिन बाद अगर बाल ऑईली दिखने लगे, तो हेयर पाउडर या ड्राई शैम्‍पू का इस्‍तेमाल कर बालों की जड़ों से अतिरिक्‍त ऑईल को हटाया जा सकता है मार्केट में कई ऐसे प्रोडक्‍ट उपलब्‍ध है, जिनका इस्‍तेमाल कर बिना शैम्‍पू के भी बालों को सुंदर व आकर्षक बनाया जा सकता है।

आज हमने आपको बहुत ही काम आने वाली जानकारी दी है आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।