Ultimate magazine theme for WordPress.

paytm card kya hai

Loading...

ये वस्तु कभी न दे किसी को उपहार में वर्ना हो सकता नुक्सान

0

हेल्लो दोस्तों हम लोग किसी भी शुभ अवसर उपहार हमेशा दूसरों को देते है हमारे समाज में एक दूसरे के साथ खुशियां बांटने की परंपरा है कई शुभ अवसरों पर हम अपने दोस्तों और प्रियजनों को उपहार में कई न कई चीजें देते और लेते हैं लेकिन क्या आप जानते है, वास्तु शास्त्र के अनुसार कई चीजें ऐसी होती है जो उपहार में देने पर अशुभ फल की प्राप्ति होती है और लगातार हानि होती चली जाती है आज हम आपको ऐसी ही 5 चीजों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसको उपहार में देने से आपको आर्थिक नुकसान और परेशानियां का सामना करना पड़ सकता है।

किसी भी शुभ अवसर पर अक्सर लोग एक दूसरे को भगवान गणेश की मूर्ति देते हैं लेकिन कई बार लोग अनजाने में भगवान गणेश की मूर्ति को साथ माता लक्ष्मी की मूर्ति या तस्वीर तस्वीर भी दे देते हैं ऐसा कभी भी नहीं करना चाहिए भगवान गणेश की मूर्ति के साथ माता लक्ष्मी की मूर्ति को भूलकर भी नहीं देना चाहिए इससे धन के आगमन की जगह हानि होने लगती है क्योंकि माता लक्ष्मी भगवान विष्णु की पत्नी है और भगवान गणेश की माता हैं जिस वजह से उनको हमेशा भगवान् विष्णु के साथ रखना चाहिए।

Also Read – 

बीमारी को ख़त्म कर देगा या पौधा

जो लोग ये सब्जी खाते है वो नहीं होते बीमार

15 दिन पिए भिन्डी का पानी जड़ से ख़त्म कर देगा बीमारी को

वास्तु शास्त्र के अनुसार धारदार हथियार या नुकीली चीजों को उपहार में देना वर्जित माना गया है इस तरह के उपहार लेने और देने से घर में क्लेश और अशांति का माहौल बना रहता है।

किसी को भी काले रंग के कपड़े और जूते को कभी भी उपहार में नहीं देना चाहिए क्योंकि काले रंग को अशुभ माना जाता है ऐसे कपड़े या जूते उपहार में देने पर जीवन में परेशानियां बढ़ने लगती है।

और एक खास बात की उपहार में हिंसक जानवरों की तस्वीर या मूर्ति न दें और ना ही लें वास्तु के मुताबिक ऐसी तस्वीरें उपहार में देने से घर में अशांति का माहौल बना रहता है।

वास्तु के अनुसार रूमाल भी किसी को उपहार में नहीं देना चाहिए उपहार में रूमाल को देने से नकारात्मकता बढ़ती है और एक दूसरे के रिश्तों में खटास पैदा होती है।

तो दोस्तों हमने आपको बता दिया की कौन सी वस्तु किसी को उपहार में नही देनी चाहिए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.