Health

शरद पूर्णिमा के दिन खीर जरूर खाये और इस बीमारी से हमेशा के लिए छुटकारा पाये

शरद पूर्णिमा का कुछ ज़्यादा ही महत्व है शरद् पूर्णिमा के दिन औषधियों की स्पंदन क्षमता बहुत अधिक हो जाती है और इस प्रकार की औषधियाँ हमारे लिए वरदान साबित होती हैं यही कारण है कि शरद् पूर्णिमा के दिन रात को खीर बनाकर उसको चाँदनी रात में खुले आकाश के नीचे रखा जाता है।

Also Read – 

ये राशि बनेगी करोड़पति कोई नहीं रोक सकता

बुधवार के दिन करे ये उपाय

बुद्धिमान और चतुर व्यक्ति में होती है कुछ खास बातें

जिससे उसमें औषधीय गुण आ जाए और वह हमारे शरीर के लिए फायदेमंद हो तो दोस्तों वैसे तो शरद् पूर्णिमा की खीर हमें कई प्रकार की बिमारियों से बचाए रखती है किन्तु फिर भी यदि आप दमा के रोगी हैं।

तो हम आपको शरद् पूर्णिमा की खीर को खाने का एक बहुत ही बढिय़ा तरीका बताते हैं यदि आपने खीर को उस तरीके से खाया तो आपकी दमा की बिमारी चाहे कितनी भी पुरानी क्यों नहीं हो वह दूर हो जाएगी और यदि आपके यह बिमारी नहीं है तो फिर जीवन में कभी भी नहीं यह बिमारी नहीं होगी तो वह तरीका यह है कि आप शरद् पूर्णिमा के दिन रात को खीर बनाए और उसको रात को 10 बजे से 12 बजे तक चादनी रात में खुले आकाश के नीचे चाँद की रोशनी में रख दें इसके साथ ही उस खीर में तुलसी के साथ दिव्य औषधि को मिला दें और उस खीर को सुबह चार बजे खा लें।

किन्तु इस बात का विशेष रूप से ध्यान रखें कि यह खीर आपको ठीक चार बजे ही खानी है इससे पहले या बाद में नहीं खानी है ऐसा करने से आपको दमा की बिमारी से ही नहीं बल्कि और भी अनेक प्रकार की बिमारियों से छुटकारा मिल जाएगा।

आप भी खीर का सेवन करे आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Join The Discussion