सरकार देने जा रही है बेटियों को 10 ग्राम सोने का गिफ्ट, जल्दी पढें कैसे

आज हम बेटियों के लिए बहुत ही खास जानकारी देने जा रहे है। बेटियों की शादी में सरकार उन्हें गिफ्ट में गोल्ड देगी सरकार वैसे तो बेटियों के लिए कई योजनाएं चलाती है उनकी शिक्षा से लेकर जीवन के कई मौकों पर सरकारी स्कीम्स का फायदा मिलता है। अब अगर किसी बेटी की शादी होती है तो सरकार उन्हें 10 ग्राम सोना देगी।

10 ग्राम सोना शादी में म‍िलेगा तोहफा

बेटियों के विकास और उनके अधिकारों की रक्षा के लिए केंद्र और राज्य सरकारों की ओर से कई अलग-अलग योजनाएं चलाई जाती हैं असम सरकार की ओर से चलाई जा रही अरुंधति स्वर्ण योजना भी शामिल है।

इसमें बेटी की शादी पर राज्य सरकार की ओर से तोहफे के तौर पर उन्हें 10 ग्राम सोना (Gold) दिया जाता है असम सरकार ने अरुंधति स्कीम को पिछले साल लॉन्च किया था अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहती हैं तो इसके लिए आवेदन करना होगा।

किसे मिलेगा 10 ग्राम सोना

1. ये स्कीम उन परिवारों को मिलेगी जिनकी दो बेटियां हैं यानि अगर किसी की तीन या इससे ज्यादा बेटियां हैं तो उन्‍हें इस स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा।
ये गोल्ड स्कीम केवल उन्हीं के लिए जिसमें वर की उम्र 21 साल और वधू की उम्र 18 साल हो चुकी हो।

2. इस योजना का लाभ लेने के लिए दुल्हन के परिवार की सालाना आमदनी 5 लाख रुपए से कम होनी चाहिए, इससे ज्यादा होने पर स्कीम का फायदा नहीं मिलेगा।

3. योजना का फायदा लड़की की पहली शादी पर ही मिलेगा, अगर इसके बाद वो दूसरी शादी करती है तो योजना का फायदा नहीं मिलेगा।

4. 10 ग्राम सोना केवल उन्हीं समुदायों में दुल्हनों को मिलेगा, जहां इस तरह की प्रथा है।

5. शादी स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत रजिस्टर्ड होनी चाहिए. जिस दिन रजिस्ट्रेशन हो उसी दिन लड़की को स्कीम के लिए अप्लाई करना होगा।

क्यों लाई गई अरुंधति गोल्ड स्कीम

इससे मैरिज रजिस्ट्रेशन करने वाली महिलाओं के अधिकारों की रक्षा होती है योजना का उद्देश्य लड़की के माता-पिता को सुविधा प्रदान करना है, जो आर्थिक रूप से मजबूत नहीं है हर माता-पिता अपनी बेटी को शादी में कुछ न कुछ सोना उपहार में देना चाहता है, लेकिन आर्थिक हालात ऐसा होने नहीं देते ऐसे में राज्य सरकार अरुंधती योजना के जरिए समाज के हर वर्ग को मजबूत बनाने की कोशिश कर रही है।

अरुंधति गोल्ड स्कीम के लिए ऐसे करें अप्लाई

1. लड़की को स्पेशल मैरिज एक्ट, 1954 के तहत शादी रजिस्टर्ड कराते ही उसी दिन स्कमी के लिए अप्लाई करना होता है।

2. एक फिजिकल एप्लीकेशन देनी होती है जिसमें मैरिज एप्लीकेशन लगी होती है, इसे मैरिज ऑफिसर को देना होता है।

3. लड़की ऑनलाइन भी अप्लाई कर सकती है इसके लिए revenueassam.nic.in. पर जाकर ऑनलाइन फॉर्म भरना होगा।

4. ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद इसका प्रिंटआउट निकालना होगा ऑनलाइन के साथ साथ इस प्रिंटआउट को भी जमा करना होता है।

5. फॉर्म सबमिट होने के बाद लड़की को इसकी एक रसीद भी मिलती है।

6. आपकी एप्लीकेशन मंजूर हुई या नहीं. SMS या ईमेल के जरिए बता दिया जाता है।

7. अगर एप्लीकेशन मंजूर हुई तो स्कीम के तहत जो भी अमाउंट बनेगा वो एप्लीकेंट के खाते में जमा कर दिया जाएगा।

8. इसलिए लड़की को अपना मोबाइल नंबर, बैंक डिटेल, ईमेल वगैरह काफी सावधानी से भरना चाहिए।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं अगर आपको जानकारी पसंद आई तो लाइक और शेयर जरूर करें और कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Join The Discussion