मोबाइल से जुड़ी हुई 5 बातें जिनको दुनिया मानती है सच

मोबाइल को लेकर लोगो के दिमाग में अलग अलग बाते आती रहती है आज हम आपको कुछ अलग बातें बताने वाले है वर्तमान में स्मार्टफोन लगभग हर इंसान के पास होता है इतना ही नहीं वर्तमान समय में स्मार्टफोन होना इंसान के शरीर के एक अंग की तरह हो गया है, जो हमेशा उसके साथ रहता है इसके साथ ही समाज में प्रतिदिन मोबाइल से जुड़ी कई अपवाह फैलाई जाती है, जिनका कोई तथ्य नहीं होता और लोग उसे सच मान बैठते हैं आए दिन मोबाइल फोन से जुड़ी हुई कई चीजें सामने आती है, जो एक प्रथा की तरह बन गई है आज हम आपको इन सभी अफवाहों के बारे में बताने वाले हैं।

कैमरा

अक्सर लोगों को लगता है कि जितना अच्छा मेगापिक्सल होगा फोटो उतनी ही अच्छी नजर आएगी अगर आपके दिमाग में भी ऐसी कोई अफवाह या धारणा है तो उसे आज ही अपने दिमाग से निकाल दे अगर ऐसा है तो एप्पल अपने फोन में केवल 8 मेगापिक्सल कैमरा देता है जिसके बावजूद इसके फोन काफी महंगे बिकते हैं जबकि एमआई एवं अन्य कंपनियां 24 एवं 20 मेगापिक्सल का कैमरा देती है जिसके बावजूद उनकी फोटो इतनी अच्छी नहीं होती बताना चाहेंगे कि इनका असली खेल मेगापिक्सल पर डिपेंड नहीं करता बल्कि अपर्चर, टाइमिंग और शटर स्पीड पर निर्भर करता है।

ब्राइटनेस

अक्सर लोगों को लगता है कि फोन का ब्राइटनेस कम कर के रखने से फोन की बैटरी की बचत होती है अगर आप का भी यही मानना है तो आपकी यह सोच गलत है अगर फोन की ऑटोमेटिक सेटिंग्स के अनुसार ब्राइटनेस होता है तो वह ऑटोमेटिक धूप एवं छांव में एडजस्ट हो जाता है, जिससे आपके फोन की बैटरी की कम खपत होती है।

रात भर चार्जिंग

अक्सर लोगों में यह धारणा से फैली हुई है कि रात भर चार्जिंग लगाकर रखने से फोन की बैटरी फूल जाएगी, फट जाएगी या खराब हो जाएगी रात भर चार्जिंग लगाकर रखने से अगर फोन फुल चार्ज हो जाता है, तो स्मार्टफोन करंट लेना बंद कर देता है, जिसके बाद ऐसी कोई समस्या उत्पन्न होने की संभावना नहीं होती।

चार्जर

लोगों में यह धारणा भी बेहद ज्यादा फैली हुई है कि फोन के साथ आए हुए चार्जर से ही फोन को चार्ज करना चाहिए लेकिन ऐसा बिल्कुल भी नहीं है अगर आपका फोन 2 एंपियर के चार्जर से अच्छा चार्ज हो रहा है तो भविष्य में आप मार्केट से 2 एंपियर का चार्जर खरीद कर उससे चार्ज कर सकते हैं इससे आपके फोन पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा बल्कि उसी तरह चार्ज होगा जिस तरह आपके फोन के साथ का चार्जर था।

नया मोबाइल

नया मोबाइल खरीदने के बाद अक्सर लोगों के दिमाग में यह बना रहता है कि जब तक स्मार्टफोन पूरी तरह डिस्चार्ज ना हो, उसे 100% चार्ज नहीं करना चाहिए ऐसी धारणा बिल्कुल गलत है क्योंकि अगर स्मार्टफोन की बैटरी डिस्चार्ज होने से उसकी कैपेसिटी और चार्जिंग पर फर्क पड़ेगा, तो इससे आपकी बैटरी खराब हो सकती है इसलिए फोन की बैटरी हमेशा 20% से ऊपर रहनी चाहिए।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं जानकारी पसंद आई तो लाइक ओर शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *