क्या आपके दिमाग में भी फालतू के विचार चलते है तो जरूर पढ़े ये पोस्ट

0

हेल्लो दोस्तों बहुत बार हमारे दिमाग में कुछ न कुछ चलता रहता है आपके दिमाग में इधर-उधर के विचार यानी कि फालतू के विचार चलते रहते हैं तो आप उन विचारों से मुक्ति पाएं और पालतू विचारों को मारे गोली यूं तो हमारे दिमाग में हमेशा कुछ ना कुछ चलता रहता है अगर आप यह सोच रहे हो कि कहीं हमें कोई बीमारी तो नहीं तो यह फितूर अपने दिमाग से बिल्कुल निकाल लीजिए हम आपको ऐसे कुछ तरीके बताने जा रहे है जिससे आपके दिमाग से ये बातें निकल जानी चाहिए।

खुद को माफ करें गलतियां किससे नहीं होती ? कौन नहीं करता ? कौन नहीं गिरता ? अगर आप कभी हारे हैं कभी कोई गलती की है तो इसे सर्च ताले इससे अपनी जिंदगी की आखिरी गलती ना मान बैठे और ना ही सबसे बड़ी गलती का दर्जा दे जिंदगी बहुत बड़ी है इसमें गलतियां होना लाजमी है बेहतर यही है कि यदि गलती हुई हो तो उसे खुद ही माफ करें खुद को जिस दिन माफ कर देंगे आप नोटिस करेंगे कि आगे चलने में आसानी हो रही है मन पर बोझ नहीं रहेगा आप का आकलन खुद ही करें l

Also Read – 

क्या आप भी लेती है छोटी छोटी बातों की टेंशन

फिटकरी को इस जगह रख दे हो जायेगी गरीबी दूर

खुद से बातें ना करें ओवर थिंकर लोगों के साथ अक्सर यह समस्या होती है कि वह जहां भी तन्हा होते हैं खुद से बातें करने लगते हैं ऐसा अकेला पन कहा जाता है अकेलापन करते हुए वे इस तरह किसी बात की गहराई तक पहुंच जाते हैं कि वह भूल जाते हैं कि वह आस-पास कौन है और वह अपने आप से बातें करने लगते हैं ओवर थिंकर लोगों को चाहिए कि वह खुद से बातें ना करें जरूरत हो तो अपने दोस्त से बात करें जितना जरूरी हो उतनी ही बातें करें फालतू बातें करने से बचें l

व्यस्त रहे अगर आप खुद को सोचने से रोक नहीं पा रहे हैं तो बेहतर है खुद को किसी ना किसी काम में व्यस्त रखें किसी काम में खुद को व्यस्त रखना सही है बेहतर होगा कि कोई आदेश विकसित ना कर ले अगर अभी मन ना लग रहा हो तो ट्रेवलिंग को अपनी आदत का हिस्सा बनाएं वैसे भी ट्रेवलिंग में सिर्फ व्यस्त के लिए अच्छा है स्वास्थ्य के लिए अच्छा है बल्कि देश दुनिया की अद्भुत जानकारी हासिल करने के लिए शौकीन है बहराल के TV देखना, गाना सुनना, दोस्त के साथ गप्पे लड़ाना l

आप हमारे द्वारा बताये गए तरीके से सहमत होंगे हमारी जानकारी कैसी लगी हमे जरूर बताये ।