क्या आप भी मूली के पत्ते की सब्जी खाते है अगर हां तो जरूर पढ़ें

0

मूली तो सभी खाते है लेकिन मूली के पत्ते कोई कोई खाता है हम अधिकतर मूली का प्रयोग सलाद के तौर पर करते हैं परंतु इसकी सब्जी भी बनाकर खाई जाती है सेहत के लिहाज से देखा जाए तो मूली का सेवन हमारे स्वास्थ्य के लिए लाभकारी माना जाता है इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व हमें फायदे पहुंचाते हैं तथा इससे शरीर में पानी की पूर्ति भी होती है लेकिन अक्सर हम इसके पत्तों को कचरा समझ कर फेंक देते हैं परंतु इसके पत्ते भी अत्यंत लाभकारी होते हैं आज हम इस पोस्ट के माध्यम से आपको बताएंगे कि इसके पत्तों से हमें कितने लाभ मिलते हैं।

Also Read –

महिलाओं में कैल्शियम की कमी को दूर करती है ये चीज़ें

कैल्शियम की कमी से क्या होता है बॉडी में

इसमें पाए जाने वाले आयरन और फास्फोरस तत्व शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाता है और इसकी कमी को दूर करता है अगर आपको जोड़ों का दर्द है तो आप इसके पत्तों का सूप बनाकर पी सकते हैं इसमें मौजूद कैल्शियम हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता है डायबिटीज के मरीजों के लिए यह रामबाण जैसा है क्योंकि इसमें पाए जाने वाले गुणकारी तत्व शरीर में ब्लड शुगर लेवल को संतुलित करते है इसके सेवन से आपकी पाचन शक्ति भी दुरुस्त होती है जिससे आपको कब्ज, एसिडिटी और पेट संबंधी अन्य बीमारियां नहीं होती है माना जाता है कि मूली खांसी बढ़ाती है।

लेकिन यह गलत है सूखी मूली का काढ़ा बनाकर जीरे और नमक के साथ उसका सेवन किया जाये, तो न केवल खांसी बल्कि दमे के रोग में भी लाभ होता है। त्वचा के रोगों में यदि मूली के पत्तों और बीजों को एक साथ पीसकर लेप कर दिया जाये, तो यह रोग खत्म हो जाते हैं सर्दियों में भारत में मूली के बहुत सारे व्यंजन बनाये जाते है यह एक बहुत ही स्वादिष्ट और तीखी चटनी है सर्दियों में गर्मागर्म परांठों के साथ इसे परोसें तो ये आपके परांठों का स्वाद भी दुगना कर देगी।

2 मूली,2 सूखी लाल मिर्च (साबुत),2 छोटा चम्मच साबुत धनिया,2 छोटा चम्मच राई,1 छोटा चम्मच जीरा,20 कढ़ी पत्ता,2 छोटा चम्मच इमली का पेस्ट,2 छोटा चम्मच तेल,स्वाद अनुसार नमक सबसे पहले मूली को छील कर कद्दूकस कर लीजिये अब एक पैन में साबुत धनिया, राई, जीरा और कढ़ी पत्ता डालकर सेक लीजिये जिससे इनकी खुशबू बढ़ जाये।

Also Read – 

खून में आयरन की कमी के क्या लक्षण होते है

खून बढ़ाने में सबसे जल्दी असर करता है ये

एक कड़ाही में तेल गर्म कीजिये और इसमें कद्दूकस की हुई मूली डालकर 5 मिनट तक पकने दीजिये जब तक मूली ठंडी हो तब तक ग्राइन्डर में भुने मसाले, लाल मिर्च डालकर पीस लीजिये ताकि इसका महीन पाउडर बन जाये इसी मसाले में पकी हुई मूली मिलायें. साथ ही नमक और इमली का पेस्ट मिलाकर अच्छी तरह पीस लीजिये तैयार है मूली की चटपटी चटनी इसे आप सर्दियों में गर्मागर्म परांठों के साथ परोस सकते हैं यह मूली की चटनी आप फ्रिज में रख सकते हैं और तब इसे आप 7 दिन तक भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

आप भी इस्तेमाल करे और फायदा देखे आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।