क्या आप भी जानते है काले पानी का सच जिससे लोग डर जाते थे

अक्सर लोगो को कहते सुना होगा काले पानी लेकिन बहुत ही कम लोग जानते होंगे की काले पानी है क्या भारत देश लगभग 200 सालों तक अंग्रेजों का गुलाम रहा है देश की रक्षा और देश को आजादी दिलाने की चाह रखने वाले वीर सपूतों ने कई तरह की यातनाएं झेली है उन्हें अंग्रेजों ने इस हद तक प्रताड़ित किया है कि सोच कर भी रूह काँप उठती है।

इन्हें भी जरूर पढें

लड़कियों का वजन क्यों नही बढ़ता है आप भी जान ले

गठिया बाय से हमेशा के लिए छुट्कारा

दालचीनी हमारे लिए कैसे लाभदायक साबित होगी

कठोर दंड देने के लिए अंग्रेजी हुकूमत की सबसे मशहूर सजा काले पानी की सजा थी इस बारे में वैसे तो आप काफी कुछ जानते होंगे लेकिन आज मैं आपको इस दर्दनाक सजा के बारे में बताने जा रही हूँ।

अंडमान निकोबार में बनी यह जेल एक राष्ट्रीय स्मारक है लेकिन बटुकेश्वर दत्त और वीर सावरकर जैसे वीरों की कहानियां आज भी यहाँ की दिवारें बयां करती है।

भारत पर अंग्रेजों ने कई तरह के जुल्म किए हैं और उन्हें इस हद तक परेशान किया है कि आप सोच भी नहीं सकते हैं इस दौरान हजारों सेनानियों को फांसी दे दी गई, तोपों के मुंह पर बांधकर उन्हें उड़ा दिया गया कई ऐसे भी लोग थे जिन्हे तड़पा तड़पा कर मारा जाता था और उन्हें काले पानी की सजा दी जाती थी।

इस जेल को सेल्युलर इसलिए नाम दिया गया था क्योकिं यहाँ पर कैदी एकदम अलग रहते थे। हर एक कैदी के लिए अलग एक छोटा सा सेल होता था और उन्हें अकेले ही रखा जाता था क्योकिं अकेलापन मनुष्य का सबसे बड़ा दुश्मन होता है।

अंडमान के पोर्ट ब्लेयर सिटी में स्थित यह जेल चारो ओर से गहरे समुद्री पानी से घिरा हुआ है, जहाँ से दूर दूर तक कोई नहीं दिखाई देता है।

जेल में बंद स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों को बेड़ियों से बांधा जाता था कोल्हू से तेल पेरने का काम उनसे करवाया जाता था इस तरह कैदियों की इस जेल के बारे में सुनते ही रूह काँप उठती थी।

आपको आज हमने काले पानी की जानकारी दी है आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये अगर आपको जानकारी पसंद आयी तो लाइक और शेयर करना न भूलें ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *