इस तरह होती है पेट्रोल की चोरी, आप भी जरूर जान ले

आज हम आपको बहुत खास जानकारी देने जा रहे है। स्कूटर, कार या फिर कोई भी वाहन चलाये सभी को चलाने के लिए हमें पेट्रोल की जरूरत पड़ती हैं पेट्रोल के बिना कोई भी वाहन चलाना मुमकिन नहीं हैं, जैसा की हम सभी जानते हैं आजकल पेट्रोल और डीजल के दाम इतने ज्यादा हो गए हैं कि हम बहुत सोच समझकर अपनी गाड़ी में पेट्रोल डलवाते हैं।

जो 15 दिन का पेट्रोल एक दिन में अपनी गाड़ी में डलवाते हैं, लेकिन उनको यह नहीं पता चल पाता की जो पैसा वो पेट्रोल स्वामी को दे रहे हैं उतना पेट्रोल उनको मिल भी रहा हैं या नहीं अगर आपको भी नहीं पता हैं तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कैसे होती हैं पेट्रोल की चोरी।

मान लीजिए आप 500 रुपये का पेट्रोल डलवाते है, 500 रुपये के पेट्रोल को डलवाने में 1 से सवा मिनट का वक्त लगता हैं, जब पेट्रोल पंप स्वामी आपकी गाड़ी में पेट्रोल डालता हैं आपका पूरा ध्यान रिडिंग देखने में लग जाता हैं, और मौका देखकर कर्मचारी 5 से 10 सेकेंड के लिए हैंडल को देते हैं और आपको पता भी नहीं चलता हैं आपको 50 से 100 रुपये की चपत लग जाती हैं।

पेट्रोल के डिजिटल मीटर लग चुके हैं, तो कभी आपको पेट्रोल पड़वाते वक्त मीटर की गति तेज दिखाई देती हैं तो आप समझ लीजिए मीटर में कुछ गड़बड़ हैं आप इसकी शिकायत भी कर सकते हैं।

पेट्रोल पड़वाने जा रहे हो तो हमेशा एक बात याद रखना कार में पेट्रोल पड़वाते वक्त कार की टंकी के पास रहना, अगर आप कार के अंदर बैठकर पेट्रोल पड़वाते हो तो आप सबसे बड़ी भूल करते हो क्योंकि मौका देखकर पेट्रोल कर्मचारी आपकी कार में कम पेट्रोल डाल देता हैं और आपको पता भी नहीं चलता हैं।

क्योंकि अगर आपकी टंकी में पेट्रोल आधे से नीचे रहता हैं तो उसमें हवा भर जाती हैं हवा के कारण तेल की मात्रा घट जाती हैं, पेट्रोल पड़वाते वक्त मीटर को जीरो पर सेट कराये और नोजल को भी देखते रहें अगर आप 500, 100 या 200 का तेल पड़वाते हैं तो आप 499, 97, या 298 इस तरह पेट्रोल पड़वाये क्योंकि पेट्रोल स्वामी अपने पेट्रोल के मीटर को इस तरह से सेट करके रखते हैं कि आपको पता भी नही चलता और आपके साथ धोखा भी हो जाता हैं।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं अगर आपको जानकारी पसंद आई तो लाइक और शेयर जरूर करें और कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

 

Join The Discussion