इन 5 कारणों से काट लेते लेते है मलेरिया के मच्छर

किन कारणो से काट लेते है मच्छर वर्ल्ड मलेरिया डे पर आप मच्छर से होने वाली इस बीमारी से बचने के उपाय और इलाज के बारे में जान ही रहे हैं लेकिन आपको अगर मच्छर ज्यादा काटते हैं तो फिर सारे उपाय बेकार हो जाते हैं।

क्योंकि विश्व मलेरिया दिवस पर यह जानना बेहद जरूरी हो जाता है कि आपको मच्छर ज्यादा क्यों काटते हैं क्योंकि जितना ज्यादा मच्छर काटते हैं उतना ही ज्यादा खतरा मलेरिया का बढ़ता है।

कुछ लोगों कि शिकायत रहती है कि उनको सबसे ज्यादा मच्छर काटते हैं अगर आपके साथ भी ऐसा है तो आपको उन कारणों के बारे में जरूरी जानाना चाहिए जो मच्छरों को आपके पास ले आते हैं।

वर्ल्ड मलेरिया डे या विश्व मलेरिया दिवस पर इस बात का सबसे ज्यादा महत्व है कि इंसान को कम से कम मच्छर काटें आइए जानते हैं उन 5 कारणों के बारे में जिसकी वजह से मलेरिया के मच्छर इंसान को ज्यादा काटते हैं।

ब्लड टाइप के कारण

मलेरिया के मच्छर इंसान के ब्लड टाइप के हिसाब से कम या ज्यादा काटते हैं यह सुनने में अजीब लग सकता है लेकिन जिन लोगों का ब्लड टाइप O होता है उनको मच्छर ज्यादा काटते हैं।

सबसे कम मच्छर A ब्लड ग्रुप वालों को काटते हैं अगर आप भी O ब्लड ग्रुप वाले हैं तो आपको मच्छरों से बचने की ज्यादा जरूरत होती है।

प्रेगनेंसी में ज्यादा खतरा

मलेरिया के मच्छर महिलाओं की ओर ज्यादा आकर्षित होते हैं लेकिन प्रेगनेंसी में ज्यादा खतरा होता है मच्छरों के बारे में एक बात और खास होती है कि वो कार्बन डाइ आक्साइड जहां ज्यादा होती है वहीं ज्यादा काटते हैं।

प्रेगनेंसी में महिलाएं कार्बन डाइ आक्साइड ज्यादा मात्रा में उत्सर्जित करती हैं जिसकी वजह से मच्छर ज्यादा काटते हैं

शरीर की गंदगी और पसीना

अगर आपके शरीर में गंदगी या पसीना बहुत ज्यादा आता है तो आपको मच्छर सबसे ज्यादा काटते हैं पसीना आने के बाद शरीर से एक विशेष प्रकार की गंध आती है जो मच्छरों को आकर्षित करती है।

अल्कोहल और मलेरिया के मच्छर

अल्कोहल का सेवन करने वाले लोगों को भी मच्छर ज्यादा काटते हैं  इसके बारे में एक्सपर्ट्स का कहना है कि जो लोग शराब का सेवन करते हैं उनमें कार्बन डाइ ऑक्साइड का उत्पादन ज्यादा होता है।

कार्बन डाई ऑक्साइड का ज्यादा उत्सर्जन होने की वजह से मलेरिया के मच्छर ज्यादा आकर्षित होते हैं।

वर्कआउट के बाद

इंसान जब फिजिकल एक्टिविटी या वर्कआउट करता है तो शरीर में लेक्टिक एसिड उत्पन्न होता है लेक्टिक एसिड की गंध और स्वाद मच्छरों को आकर्षित करने का काम करता है।

जो लोगो उन जगहों पर काम करते हैं जहां मच्छर ज्यादा होते हैं उनको मलेरिया के मच्छर ज्यादा शिकार बनाते हैं।

आपको  कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं जानकारी पसंद आई तो लाइक ओर शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करे।

 

Join The Discussion