फिटकरी से ठीक होती है ये बीमारियां आप भी जान ले

0

वैसे तो फिटकरी बहुत ही काम की चीज होती है लेकिन फिटकरी कुछ बीमारी में काफी लाभदायक होती है फिटकरी को अगर हम इस्तेमाल करते है तो देखना उसका लाभ हमे अवश्य मिलेगा फिटकरी से कौन कौन सी बीमारी सही होती है आओ जानते है।

इन्हें भी जरूर पढ़ें – 

इन 5 राशि की बंद किस्मत खुल जाएगी सुर्यग्रहण के बाद

2019 से 2021 तक इन राशि की किस्मत बदल जायेगी

इन 4 राशि को मिलेगा वो सब जो ये चाहते है 1 जनवरी को

बुखार- साधारण बुखार में थोड़ी-सी सोंठ और फिटकरी पीसकर दिन में तीन बार बताशे में रखकर खिलाने से आराम पहुंचता है।

चर्म रोग- जिस स्थान पर चर्म रोग हुआ हो, उस स्थान को बार-बार फिटकरी के पानी से धोने से लाभ होता है।

दांत दर्द- दांतों के दर्द में फिटकरी और रीठे की गुठली की राख मिलाकर दांतों रगड़ने से लाभ मिलता है।

घाव- यदि घाव भर नहीं रहा हो तो फिटकरी को तवे पर भून कर चूर्ण बना लें , एक चौथाई चम्मच गाय के गोबर में पौना ग्राम फिटकरी मिलाकर घाव पर लगाएं, कुछ ही दिनों में घाव ठीक हो जाएगा।

आंखों के रोहे- 5-5 ग्राम फिटकरी और सुहागा एक साथ पीस लें, फिर उसमें एक या डेढ़ ग्राम कलमी मिलाकर मिश्रण को छान लें, और दो-तीन बूंद आंखों में सुबह-शाम डालें।

पायरिया- दांतों में खून आता हो तो लगभग 5 ग्राम फिटकरी को पीसकर इसमें कोयले का चूर्ण बना ले। इस मिश्रण को दांतों पर मलने से खून निकलना बंद हो जाता है।

मुंह के छाले- आग में फुलाई गई फिटकरी और बराबर मात्रा में माजूफल का चूर्ण मिलाकर जीभ पर मलें, इससे लार गिरेगी और छाले ठीक हो जाएंगे।

चोट- अंदरुनी चोट लगने पर एक गिलास दूध में आधा ग्राम फिटकरी मिलाकर पिलाएं, फिर घंटे भर बाद में हल्दी डाल कर पिलाएं, चोट से राहत मिलेगी।

पसीने को दूर रखना – फिटकरी का चूर्ण बनाकर सुबह नहाने के पानी में डाल कर नहाने से पसीने कि बदबू नहीं आती है।

बढ़ती उम्र को रोकने के लिए:- फिटकरी में एंटी-एजिंग का गुण होता है। इसलिए यह समय से पहले बुढ़ापे को रोकता है।

अगर आपको भी इन में से कोई बीमारी है तो आप फिटकरी का इस्तेमाल जरूर करे आपको जरूर लाभ होगा आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं अगर आपको जानकारी पसंद आयी तो लाइक और शेयर जरूर करें ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमें फॉलो करें।