धोनी को ठहराया अपनी हार का जिम्मेदार न्यूजीलैंड के कप्तान ने

जब कोई हारता है तो वो किसी न किसी को जिम्मेदार ठहराता तो है ही ऐसा ही यह हुआ कुछ भारतीय टीम के गेंदबाजों के बेहतरीन प्रदर्शन के बाद जबरदस्त बल्लेबाजी के बूते पर भारतीय टीम न्यूजीलैंड की टीम को दूसरे टी-20 मुकाबले में 7 विकेट के बड़े अंतर से हरा दिया है बता दें कि इस जीत के साथ भारतीय टीम ने ना सिर्फ कीवी टीम से हार का बदला लिया है, बल्कि तीन मैचों की सीरीज को 1-1 से बराबरी पर भी कर दिया है।

इन्हें भी जरूर पढ़ें – 

सिम हो जाएगा बंद अगर नही करोगे ये काम

धोनी को लेकर ICC ने दी चेतावनी हर बल्लेबाज को हुई टेंशन

बता दें कि मैच के बाद की प्रेस कॉन्फ्रेंस में केन विलियमसन ने महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा को लेकर कुछ बड़ी बातें कहीं अपने बयान में विलियमसन ने कहा कि “पहले T20 मुकाबले में भारतीय टीम को हराने के बाद जिस तरीके से हम दूसरों के मुकाबले में हार गए, हमारे लिए बेहद शर्मनाक है इसमें कोई शक नहीं कि ऑकलैंड के इस मैदान पर हम अच्छी तरीके से खेलना जानते हैं, लेकिन इसके बावजूद भारतीय टीम ने हमे हराया जिससे पता चलता है कि वह इस जीत के असली हकदार हैं लेकिन हम पूरी कोशिश करेंगे कि जल्दी अगले मुकाबले को जीतकर इस सीरीज को अपने नाम कर सकें”।

उसके बाद जब रिपोर्ट ने विलियमसन से यह पूछा कि आखिर वह कौन सी बड़ी वजह है जिसके कारण न्यूजीलैंड की टीम इतने बड़े अंतर से हार गई है, तो इस बात का जवाब देते हुए केन विलियमसन ने कहा कि “आप सभी को गिनाने के लिए मेरे पास ऐसी कई बड़ी वजह हैं, जिसकी वजह से हम दूसरा T20 मुकाबले में हरे हैं, लेकिन मेरे नजरिए में सबसे बड़ी वजह तो यह है कि महेंद्र सिंह धोनी रोहित शर्मा के साथ मिलकर मैदान में आधी अधूरी कप्तानी करते हैं इसमें तो कोई शक नहीं कि जब तक धोनी जैसा खिलाड़ी भारतीय टीम में मौजूद हो तो उनको हराना बेहद मुश्किल है परंतु हमारी टीम पूरी कोशिश करेगी कि हम इस सीरीज को किसी भी तरीके से अपने नाम कर सकें”।

अपने इस बयान में केन विलियमसन ने महेंद्र सिंह धोनी को जिम्मेदार ठहराते हुए करते हुए, भारतीय टीम की तारीफ भी करी।

आपको लगता है इस जानकारी में जरूर बताएं अगर जानकारी पसंद आई तो लाइक और शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *