देश की ये महिला आई पी एस अधिकारी अपराधी तो नाम से ही डरते है

0

इन आईपीएस महिला की जितनी तारीफ करे उतनी है कम है हम आपको कुछ ऐसी महिला अधिकारी के बारे में बताने वाले है जिनका नाम ही बहुत चलता है
देश में जब महिला आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) अधिकारी की बात होती है तो किरण बेदी का नाम सबसे जेहन में जरूर आता है, क्योंकि वह देश की पहली महिला आईपीएस हैं देश में पहले पुलिस की नौकरी के लिए महिलाएं रुचि नहीं लेती थीं, लेकिन किरण बेदी के आईपीएस बनने के बाद से महिला का हौसला बढ़ा और महिलाएं आईपीएस की नौकरी में हाथ आजमाने लगीं वहीं, बॉलीवुड में ​भी कई फिल्में बनीं, जो आईपीएस के पद के गौरव को बढ़ाने का काम किया।

इन्हें भी जरूर पढ़ें –

इन मशहूर कंपनी के लोगों का मतलब ही होता है कुछ अलग

लड़किये के लिए मोदी सरकार लायी एक नयी योजना हर लड़की लाभ उठाएं

पोस्ट पेमेंट बैंक क्या है

भारत में पुरुष ही नहीं महिला आईपीएस अफसर भी अपने काम को ईमानदारी और सख्ती से कर रहीं है, जिन्होंने तमाम बहादुरी के काम किए हैं कानून व्यवस्था को सुधारने में अहम भूमिका रही यही नहीं, अपरा​धी महिला आईपीएस अफसरों से खौफ भी खाते थे देश की पहली महिला आईपीएस किरण बेदी की बहादुरी और उनकी छवि से तो आप सब रूबरू होंगे, लेकिन आज हम आपको उन महिला आईपीएस अफसरों के बारे में बताएंगे, जो खूबसूरत तो हैं, पर उनके काम और भी खूबसूरत यही नहीं, अपराधी भी उनसे खौफ खाते हैं आईए जानते हैं उन अफसरों के बारे में

मैरीन जोसेफ़

मैरीन जोसेफ केरल राज्य से हैं, उनके नाम युवा आईपीएस अधिकारी बनने का भी रिकॉर्ड है बताया जाता है कि मैरीन जोसेफ को उनके काम से पहचाना जाता है जनता में उनकी उनकी बहुत ही सकारात्मक छवि है बताते हैं कि जोसेफ आम लोगों की काफी मदद करती हैं कभी भी उन्हें फोन कर उनकी मदद ली जा सकती है वैसे मैरीन जोसेफ को देश की सबसे खूबसूरत महिला आईपीएस अफसर के नाम से भी जानी जाती है।

अपराजिता राय

अपराजिता राय पहली गोरखा महिला आईपीएस हैं, वह असम राज्य से हैं वह 2012 बैच की आईपीएस अफसर हैं इन्हें भी उनके काम से जाना जाता है, इसके लिए अपराजिता को राष्ट्रीय अवॉर्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है अपराजिता इस समय पश्चिम बंगाल में कार्यरत हैं बताते हैं कि अपराजिता लोगों की बहुत मदद करती हैं।

संजुक्ता पराशर

संजुक्ता पराशर का नाम सुनते ही नक्सली, अपराधी कांपने लगते हैं संजुक्ता को लेडी सिंघम की कहते हैं अपने कार्यकाल के दौरान संजुक्ता ने 16 नक्सलियों को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था जबकि करीब 65 नक्सलियों को गिरफ़्तार किया है इनकी बहादुरी के चर्चे पूरे देश में हैं बताते हैं कि अपराधी इनके नाम से ही सरेंडर कर देते हैं।

मीरा बोरवांकर

मीरा बोरवांकर के नाम से मुंबई का अंडरवर्ल्ड भी का कांपता है बताते हैं मीरा महाराष्ट्र की पहली महिला क्राईम ब्रांच अधिकारी हैं इनकी बहादुरी के चलते इन्हें राष्ट्रपति मेडल से भी सम्मानित किया जा चुका है मीरा ने मुम्बई के सबसे चर्चित केसों में जलगांव स्कैंडल, इकबाल मिर्ची, अबु सलेम जैसे केस को भी सुलझा चुकी हैं इसके अलावा वह कई बड़े केस भी सुलझा चुकी हैं।

संगीता कालीया

संगीता कालीया में आईपीएस बनने की ललक थी, इसके उन्हें तीन बार परीक्षा देनी पड़ गई बताते हैं कि संगीता ने दो बार यूपीएससी की परीक्षा पास की, लेकिन दोनों बार उन्हें आईएएस के लिए चुना गया इसके उन्होंने तीसरी बार परीक्षा दी, इस बार उन्हें आईपीएस की रैंक मिल गई।

सोनिया नारंग

सोनिया नारंग की तेजतर्रार छवि के रूप पहचान है सोनिया ने सुर्खियां तब बटोरीं जब उन्होंने एक विधायक को सरेआम थप्पड़ जड़ दिया था। यही नहीं उसे जेल भी भेज दिया था इस मामले के बाद सोनिया का खौफ लोगों में पैदा हो गया था बताते हैं इस समय सोनिया से अपराधी ही नहीं नेताओं को भी डर सताने लगा है।

आज हमने आपको कुछ खास महिला अधिकारी के बारे में जानकारी दी आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताये अगर जानकारी पसंद आयी तो लाइक और शेयर जरूर करे ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमें फॉलो करें।