डाइबिटीज के मरीज को जरूर खाना चाहिए यह फल

आज के समय में सब से ज़्यादा खतरनाक बीमारी डाइबिटीज है अक्सर बीमार पड़ने पर डॉक्टर्स मरीजों को ताजे फल खाने की सलाह देते है ऐसे में फलों को खाने से शरीर को आवश्यक पोषक तत्व मिलते है और बीमारी भी जाने लगती है लेकिन अगर वो मरीज डाइबिटीज से ग्रस्त हो तो मीठे फलों से भी परहेज करना पड़ता है तो चलिए आज हम आपको एक ऐसे फल के बारे में बताने जा रहे है जो चीनी से ३०० गुना ज्यादा मीठा है, फिर भी शुगर फ्री है।

इन्हें भी जरूर पढ़ें – 

मिल जाये ये पौधा तो जरूर ले आये घर

घर में न लगाएं ये पेड़

इस पेड़ की सिर्फ पत्ती चढाने से ही मिल जाती है हर ख़ुशी

मोंक फ्रूट

चीन में पाए जाने वाले इस फल को मोंक फ्रूट कहते है भारत में इस फल को सीएसआईआर-आइएचबीटी संसथान ने पालमपुर में तैयार किया है अच्छी बात ये है कि इस फल को या इस फल से बने किसी भी उत्पाद को डाइबिटीज के मरीज भी आसानी से खा सकते है।

आपको बता दें कि मोंक फ्रूट के इस पौधे को सबसे पहले चीन में उगाया गया था मगर अब पालमपुर में सीएसआईआर और एनबीपीजीआर की मंजूरी के बाद अब भारत में भी बड़े स्तर पर तैयार किया जा रहा है।

इस फल के मोगरोसाइड तत्व से मिठास का नया विकल्प तैयार किया गया है, जो चीनी के मुकाबले करीब ३०० गुना अधिक मीठा होता है इसमें एमिनो एसिड, फ्रक्टोज, खनिज और विटामिन शामिल है बता दें कि किसी पेय पदार्थ या पके हुए भोजन में उपयोग में लाने के बाद भी इसकी मिठास कायम रहती है।

कृषि वैज्ञानिकों के मुताबिक इस फल के पौधे के जरिये हमारे देश में किसानों के पास आय का एक और साधन पैदा हो जाने की उम्मीद बढ़ जायेगी जहां किसानों की आय ४० हजार रुपये प्रतिहेक्टर हुआ करती थी वो बढ़कर १.५ लाख रूपये प्रतिहेक्टेर हो जायेगी जिससे हो सकता है कि हमारे देश में किसानों की आर्थिक स्थिति भी अच्छी हो जायेगी और वे भी जिंदगी जी सकेंगे।

आप भी अगर डाइबिटीज के मरीज है तो आप इसका सेवन जरूर करें आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं जानकारी पसंद आयी तो लाइक और शेयर जरूर करें ऐसी ही नयी नयी जानकारी के लिए हमें फॉलो करें।

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *