भारत के टॉप स्कूल जहा बनता है बच्चो का भविष्य

आज हम आपको भारत के कुछ ऐसे स्कूल बताने वाले है जहाँ पर बच्चो का भविष्य बन जाता है भारत के एजुकेशन के बोर्ड को हालातों को देखें तो इसमें सुधार जरूर किए गए हैं लेकिन शिक्षा के स्तरों में इतना आदिक सुधार भी नहीं हुआ है भले ही इस क्षेत्र में अभी हमारा रास्ता लंबा हो लेकिन फिर भी देश ने पहले की अप्रक्षा प्रगति तो की ही है।

एजुकेशन सिस्टम में सबसे तेजी से विकास सीबीएससी बोर्ड ने किया है आज हम आपको सीबीएससी बोर्ड के सबसे बेस्ट स्कूलों के बारे में बताने जा रहे हैं।

दिल्ली पब्लिक स्कूल, आरके पुरम, नई दिल्ली

इस स्कूल की गिनती देश के बेस्ट सीबीएससी स्कूलों में होती है स्कूल आरके पुरम में है इसकी स्थापना 1972 में हुई थी। इस स्कूल में एडमिशन के लिए एक दो स्टेज वाली वोटिंग प्रोसेस होती है उसके बाद स्टूडेंट्स का रिटर्न एग्जाम होता है और इंटरव्यू राउंड क्लियर करने के बाद उन्हें स्कूल में एडमिशन मिलता है इस स्कूल की पढाई और टीचर्स काफी बेहतर हैं।

दिल्ली पब्लिक स्कूल, वसंत कुंज, नई दिल्ली

डीपीएस वसंत कुंज पिछले 10 सालों में उन स्कूलों की लिस्ट में शुमार हो गया है जिनकी गिनती देश के बेस्ट सीबीएससी स्कूलों में होती है इस स्कूल की स्थापना 1991 में हुई थी पढाई के साथ एक्स्ट्रा करिकुलम एक्टीविट्ज पर भी काफी ध्यान दिया जाता है।

द मदर्स इंटरनेशनल स्कूल, नई दिल्ली

द मदर्स इंटरनेशनल स्कूल भी एक ऐसा नाम है जो बेस्ट सीबीएससी स्कूलों की लिस्ट में शामिल है 1956 में अपनी स्थापना के बाद से ही स्कूल का प्रदर्शन काबिले तारीफ़ रहा है ये स्कूल भी पढ़ाई के साथ सभी अन्य एक्टिविटीज पर ध्यान देता है जिस से छात्रों का सर्वांगीण विकास हो।

दिल्ली पब्लिक स्कूल, मथुरा रोड, नई दिल्ली

सीबीएसई बोर्ड से संबद्ध, डीपीएस, मथुरा रोड़ स्कूल का भी काफी नाम है यहाँ पर पेरेंट्स अपने बच्चों का एडमिशन करवाने को काफी प्राथमिकता देते है ये भी वाकई अच्छा स्कूल है।

नेशनल पब्लिक स्कूल, बैंगलोर

1982 में स्थापित, नेशनल पब्लिक स्कूल का नाम भी अव्वल स्कूलों में होता है यहां का माहौल छात्रों को सीखने के कई अवसर प्रदान करता है जो छात्रों के अनुकूल है।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं जानकारी पसंद आई तो लाइक ओर शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Join The Discussion