बच्चे हो जाने के बाद की कुछ खास बातें क्या सोचते है और क्या महसूस करते है

0

हेल्लो दोस्तों जब तक हम अकेले होते है हमारी ज़िन्दगी रोमांस से भरी होती है लेकिन जब हमारे एक बच्चा आ जाये तो हमारा पूरा समय उसको देखने में ही निकल जाता है।

बच्चा हो जाने के बाद अगर कोई विवाहित जोड़ा रोमांस भरे पल गुजारने की सोच रहा है तो ऐसा बिल्कुल भी मुमकिन नहीं है, क्योंकि पूरे टाइम तो आप बच्चे को ही खिलाते रहोगे|

आप ये भी पढें – सुबह का उठना हमे दे सकता है मृत्यु का इशारा

बच्चा हो जाने के बाद कोई भी मां सोचती है कि वह प्यार से बैठकर अपने बच्चे को खाना खिलाएगी और वह चुपचाप खाएगा, लेकिन असलियत में होता ऐसा है कि बच्चा जितना खाना खाता है उसे ज्यादा इधर-उधर फेंकता है|

जब आप बच्चे को कपड़े पहनाते होंगे तो सोचेंगे कि वह बड़े प्यार से कपड़े पहन लेगा लेकिन असलियत में बच्चा इधर-उधर भागने लगता है और आपको उसे पकड़-पकड़ कर जबरदस्ती कपड़े पहनाने पड़ते हैं|

बच्चों को खेलने के लिए छोड़ दो तो आप उम्मीद करते होंगे कि वह प्यार से एक-दूसरे के साथ खेलेंगे, लेकिन होता है ऐसा है कि वह खेलते-खेलते ही एक-दूसरे से लड़ने लग जाते हैं|

बच्चों का कमरा आप जितनी बार साफ कर लो लेकिन थोड़ी देर बाद ही वह उसका बुरा हाल कर देते हैं|

मम्मी यही सोचती होगी कि वह आराम से बैठकर अपनी पसंदीदा किताब पड़ेगी लेकिन उसे इसके लिए बिल्कुल ही समय नहीं मिलता और थोड़ा बहुत जो समय मिलता है उसमें भी कोई ना कोई उसको अपने काम के लिए परेशान कर ही देता है|

बच्चा हो जाने के बाद तो आपकी नींद भी रात को कई बार खुल सकती है क्यूंकि बच्चा मम्मी और पापा दोनों के बीच में पूरे बैड पर कहीं भी सो सकता है ,आमतौर पर बच्चे ऐसा करते हैं|

बच्चे हो जाने के बाद जो पहली तस्वीर एक साथ खिंचवाई जाती है।

अगर आप बच्चों से कुछ बेहतर बनाने की उम्मीद करो तो वह उसे इतना बेहतर बना देते हैं कि वह देख कर कोई भी हैरान रह जाए और वैसे भी आज कल के बच्चे तो शुरू से ही कुछ ज़्यादा ही समझदार होते है।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

Loading...