lifestyle

अर्नब ने कहा – मेरी मदद करो, मेरी जान नहीं बचेगी, जेल में मुझे मारा जा रहा है

आज हम आपको बहुत ही खास खबर देने जा रहे है। जैसा कि हम जानते है कि पत्रकार अर्नब गोस्वामी अब बुरी स्तिथि में दिख रहे है, उनके आवाज में दर्द झलक रहा है और उनकी आँखें बता रही है की उनपर जबरजस्त तरीके से  अत्याचार किया गया है। जो कि हर तरीक़े से गलत है। अर्णब पर किसी भी तरह का अत्याचार नही होना चाहिए।

आज जब अर्णब को जेल से कोर्ट ले जाते हुए अर्नब गोस्वामी किसी तरह मीडिया से बातचीत करने में कामयाब रहे, वो जेल की गाड़ी में बैठे थे इसी बीच वो अपनी कुछ बातें मीडिया से कहने में सफल रहे। और अर्णब ने बहुत ही ज़्यादा तेज आवाज में चींखते हुए कहा की – “मेरी जान को खतरा है, मेरी मदद करो”।

अर्णब ने मीडिया से ये भी कहा की – जेल के अंदर मुझे मारा जा रहा है, मेरी जान को खतरा है और मुझे मेरे वकीलों से भी नहीं मिलने दिया जा रहा है। मेरी मदद करो।

आज अर्णब ने हम सब के लिए आवाज उठाई है अब हमारी भी जिम्मेदारी है कि हम अर्णब के लिए आवाज उठाएं। और अर्णब का साथ दे अर्णब की मदद करे अर्णब ने सच का साथ दिया है।

आज अर्णब के साथ हो रहा है कल को हमारे साथ भी हो सकता है। सच्चाई के लिए लड़ना कहा लिखा है कि गलत है। अब समय आ गया कि अर्णब के लिए आवाज उठाएं।

आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं ऐसी ही नई नई जानकारी पाने के लिए हमें फ़ॉलो जरूर करें।

Join The Discussion