अपने पितरों को खुश करने के लिए श्राद्ध में करे ये

0

हेल्लो दोस्तों इन दिनों श्राद्ध चल रहे हैं और हम सब अपने-अपने पितरों का श्राद्ध उनकी मृत्यु की तिथि के हिसाब से मनाते हैं ऐसा माना जाता है कि श्राद्ध पक्ष में सभी पितर अपने अपने घर अपनी मृत्यु की तिथि वाले दिन भोजन करने के लिए आते हैं और अपनी मनपसंद का भोजन पाकर बहुत ही खुश होते हैं और अपने परिवार वालों को आशीर्वाद देते हैं।

जिससे उनके परिवार पर आई हुई सब विपदाएँ दूर हो जाती हैं ओर परिवार में खुशहाली बनी रहती है इसलिए हम अपने पितरों को खुश करने और उनका आशीर्वाद लेने के लिए उनका श्राद्ध करते हैं तो दोस्तों वैसे तो हम अपने पितरों का श्राद्ध उनकी मृत्यु की तिथि के हिसाब से ही करते हैं किन्तु कई बार ऐसा होता है कि हमको अपने कुछ पूर्वजों की मृत्यु की तिथि का पता ही नहीं होता या फिर किसी कारण से हम उनका उनकी मृत्यु की तिथि पर श्राद्ध नहीं कर पाते हैं।

Also Read – 

अगर आपके घर में भी दिख जाए चींटियां तो समझ के ये है साकेत

इंसान के अच्छे दिन आएंगे तो मिलेंगे ये संकेत

तो हम आपको बताते हैं कि यदि आपके साथ भी कभी ऐसा होता है तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नहीं है इसके लिए आप श्राद्ध पक्ष के आखिरी दिन यानि कि अमावस्या वाले दिन गाय, कुत्ता, कौवा इन के नाम की दो-दो रोटी के उपर कुछ मीठा रखकर अग्रि पर भोग लगाकर रोटी को गाय, कुत्ता, और कौवे को खिला दें इसके साथ ही हो सके तो एक ब्राहम्ण को भोजन भी करा दें।

और नहीं तो फिर गाय को दो की जगह चार रोटी खिला दें ऐसा करने से आपके वो पितर भी जिनकी मृत्यु की तिथि आपको पता नहीं है उनका श्राद्ध भी आप कर पाएँगे और उनका भी आपको आशीर्वाद मिल जाएगा।

आप भी ऐसे ही करे और सभी परेशानी से छुटकारा पाए आपको कैसी लगी पोस्ट हमे जरूर बताएं।