आलू प्याज की कीमतें ने भारी गिरावट, मची लूट

आज हम आपको ऐसी चीजें के बारे में बताने जा रहे है जिनकी जरूरत सभी को है भले ही आलू-प्याज की कीमतें थोक बाजार में गिर रही है, लेकिन फुटकर में लूट मची हुई है। गुरुवार को थोक बाजार में प्याज 36 से 38 रुपये किलो और आलू 37-38 रुपये किलो रहा। मगर, फुटकर में आलू-प्याज दोनों ही 60 रुपये किलो तक बिक रहे हैं। जबकि खास बात यह है कि आलू-प्याज दोनों की ही आवक काफी सुधर गई है और आवक की तुलना में ग्राहकी आधी है।

हालांकि, बड़े बाजारों में प्याज के दाम 50 रुपये किलो भी रहे ,लेकिन ठेलों व कालोनियों में यह 60 रुपये किलो ही बिकी। कारोबारियों का भी कहना है कि यह फुटकर में मनमानी है। थोक आलू-प्याज व्यावसायी संघ के अध्यक्ष अजय अग्रवाल ने कहा कि आवक में किसी भी प्रकार से कोई समस्या नहीं है।

थोक में इनकी कीमतों में गिरावट बनी हुआ है।

आलू-प्याज के रिटेल काउंटर भी

इन दिनों आलू-प्याज के रिटेल काउंटर भी खोल दिए गए है। भनपुरी क्षेत्र में ही इनके 22 काउंटर है और थोक कीमतों में ही फुटकर में उपलब्ध कराया जा रहा है। कारोबारियों का कहना है कि उपभोक्ता इन काउंटरों में थोक कीमतों में ही चिल्हर में आलू-प्याज ले सकते है।

आवक सुधरी, तो महंगी सब्जियों से राहत

बाहरी आवक के साथ लोकल आवक में सुधार होने पर उपभोक्ताओं को लगातार महंगी हो रही सब्जियों से थोड़ी राहत मिल गई है। अब टमाटर, गोभी, बैगन, बरबट्टी, लौकी सहित कई सब्जियों की कीमतों में पखवाड़े भर में 40 फीसद की गिरावट आ गई है। बताया जा रहा है कि इन दिनों कुछ सब्जियां तो ऐसी हैं, जिनकी स्थानीय आवक ही इतनी बढ़ गई है कि बाहरी आवक को बंद कराना पड़ा।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं अगर आपको जानकारी पसंद आई तो लाइक और शेयर जरूर करें और कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं।

Join The Discussion