1 नवंबर से शुरू हुआ छठवां लॉक डाउन, ये सेवाएं होगी शुरू

जैसा कि हम आपको बताने जा रहे है भारत में कोरोना महामारी के मद्देनजर लम्बे लॉक डाउन प्रक्रिया के ख़त्म होने के बाद देश में आज से अनलॉक प्रक्रिया का छठवां चरण शुरू हो रहा है। अनलॉक के छठे चरण में राज्यों को कंटेनमेंट जोन छोड़कर अन्य इलाकों में अधिक से अधिक गतिविधियां शुरू करने की इजाजत मिली है। इस सप्ताह की शुरुआत में केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बताया था कि 30 नवंबर तक अनलॉक 5.0 में किसी तरह की ढील नहीं दी जाएगी।

1 जून से शुरू हुई थी अनलॉक की प्रक्रिया

बता दें कि देश में अनलॉक का पहला चरण 1 जून से शुरू हुआ था। इसके बाद से अब तक रेस्तरां, सिनेमा हॉल, जिम, मॉल, स्कूल, स्विमिंग पूल, धार्मिक स्थल और मेट्रो रेल सेवाओं को खोलने की इजाजत दी जा चुकी है।

राजनाथ सिंह का कांग्रेस को करारा जवाब , नही रहेगी कांग्रेस मुँह दिखाने लायक

हालांकि इस दौरान सख्त मानक संचालन प्रक्रियाओं (SOPs) का पालन करना अनिवार्य है। पूरी यात्री क्षमता के साथ चलेंगे डीटीसी बस नवंबर से दिल्ली में बसों को पूरी यात्री क्षमता के साथ चलाने की इजाजत है। वहीं, पश्चिमी रेलवे मुंबई में अतिरिक्त लोकल ट्रेनों का संचालन शुरू कर रही है। इसके साथ ही अंतरराज्यीय बस सेवा भी आज से शुरू हो जाएगी।

कोरोना वैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल जल्द होगा शुरू

कोरोना वैक्सीन के तीसरे फेज का ट्रायल जल्द होगा शुरू इसके अलावा, आज से गोवा में कसिनो खोले जाएंगे, उत्तर प्रदेश में दुधवा टाइगर रिजर्व पर्यटकों के लिए खुलेगा, असम में काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान की हाथी सफारी और जम्मू-कश्मीर में वैष्णो देवी मंदिर में और अधिक तीर्थयात्रियों को अनुमति होगी।

यात्रा करते समय मास्क पहनना जरूरी दिल्ली के परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने शनिवार को बताया कि 1 नवंबर से यात्रियों को डीटीसी बसों की सारी सीटों पर बैठने की इजाजत होगी। यात्रियों ने लिए स्पष्ट दिशानिर्देश है कि यात्रा करते समय उन्हें मास्क जरूर पहनना होगा। साथ ही किसी भी यात्रा को डीटीसी या क्लस्टर स्कीम बस में खड़े रहने की इजाजत नहीं है। साथ ही यात्रियों से यह भी कहा गया है कि यात्रा करते समय शारीरिक दूरी बनाए रखे।

वैष्णो देवी मंदिर में पंद्रह हजार तीर्थयात्रियों को मिली इजाजत

रविवार से 610 और लोकल ट्रेनों को परिवहन की इजाजत दी गई है। इनमें से 314 सेंट्रल (CR) और 296 वेस्टर्न रेलवे (WR) की हैं। मालूम हो कि कोविड-19 लॉकडाउन लागू होने से पहले रेलवे 3,141 उपनगरीय सेवाओं (1,774 CR और 1,6767 WR) का संचालन कर रही थी। वैष्णो देवी मंदिर में पंद्रह हजार तीर्थयात्रियों की इजाजत आज से शुरू होने वाले प्रति दिन वैष्णो देवी मंदिर में पंद्रह हजार तीर्थयात्रियों को अनुमति दी जाएगी। इससे पहले केवल 7,000 तीर्थयात्रियों को कोविड -19 प्रतिबंधों के कारण तीर्थ यात्रा करने की इजाजत थी।

आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं ऐसी ही नई नई जानकारी पाने के लिए हमें फ़ॉलो जरूर करें।

Join The Discussion