शरीर मे शुगर की शुरुआत के लक्षण क्या होते है और कैसे बचाव करें

0

आज के समय ने शुगर की शिकायत हर किसी को होती है। किसी को ज़्यादा तो किसी को कम होती है डायबिटीज दो प्रकार की होती है। टाइप-1 डायबिटीज में इंसुलिन बनना बंद हो जाता है और ऐसे लोगों को हर रोज इंसुलिन का इंजेक्शन लेना पड़ता है जबकि टाइप-2 डायबिटीज में इंसुलिन थोड़ा बहुत बनता है लेकिन ऐसे रोगियों को इंसुलिन के इंजेक्शन नहीं लेने पड़ते। पर दोनों ही तरह की डायबिटीज स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक है।

डायबिटीज की वजह से हार्ट अटैक पड़ने की संभावना बहुत बढ़ जाती है देशभर में 29 करोड़ से ज्यादा लोग डायबिटीज की चपेट में हैं अगर आप अपने स्वास्थ्य पर थोड़ा-सा ध्यान दे तो आप डायबिटीज जैसी परेशानी से बच सकते हैं।

डायबिटीज के लक्षण

भूख कम लगना, वजन लगातार घटना, बार-बार प्यास लगना, बार-बार पेशाब आना, लगातार थकान महसूस होना, धुंधला दिखाई देना, त्वचा संबंधी परेशानियां होना आदि अगर आपको डायबिटीज का इनमें से कोई भी लक्षण नजर आता है तो आप डॉक्टर से संपर्क करें।

डायबिटीज की समस्या आंखों के लिए भी बहुत हानिकारक होती है। डायबिटीज की वजह से आंखों की रेटिना प्रभावित होती है, जिससे आंखें खराब हो जाती है।

डायबिटीज से बचने के उपाय

अगर आप प्रतिदिन सुबह खाली पेट तुलसी के 3 पत्ते चबाते हैं तो इससे डायबिटीज होने की संभावना काफी हद तक कम हो जाती है डायबिटीज से बचना चाहते हैं तो प्रतिदिन लोकी, पालक, पपीता जैसी सब्जियों का सेवन करें इससे बहुत फायदा होता है।

डायबिटीज से बचने के लिए ग्रीन टी आपकी मदद कर सकती है। ग्रीन टी में पॉलीफिनॉल और एंटी ऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर में ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करते हैं जामुन खाने से डायबिटीज की बीमारी नियंत्रित रहती है।

आपको कैसी लगी जानकारी हमे जरूर बताएं जानकारी अगर पसंद आई तो लाइक और शेयर जरूर करे ऐसी ही नई नई जानकारी के लिए हमे फॉलो करें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.