चोटी बांध कर सोने से महिलाओं को हो सकती है ये परेशानी

जैसा कि महिलाएं रात में सोते वक्‍त बालों में चोटी या फिर जूड़ा बना लेती हैं। इसके पीछे पहली वजह होती है कि सोते वक्‍त बाल कम से कम उलझें और दूसरी वजह होती है कि सोते वक्‍त बाल खुले रहने से परेशानी न हो। मगर इन दोनों चीजों से बचने के और भी कई रास्‍ते हो सकते है लेकिन चोटी बना कर सोना सही तरीका नहीं है। चलिए हम आपको बताते हैं कि चोटी बना कर सोने से आपके बालों को क्‍या नुकसान पहुंच सकता है।

हेयर फॉल की समस्‍या- बालों में चोटी बना कर सोने से हेयर फॉल की समस्‍या बढ़ सकती है। दरअसल, जब आप चोटी बना कर रात में सोती हैं तो सोने के दौरान पोजीशन चेंज करते वक्‍त बाल खिंचते हैं, इससे बाल टूटना शुरू हो जाते हैं।

7-8 घंटे तक चोटी बनाए रखने से बालों में ऑक्‍सीजन और स्‍कैल्‍प पर ब्‍लड सर्कुलेशन भी सही तरह से नहीं होता है। यह भी हेयर फॉल की एक बड़ी वजह होती है।

बालों का शेप बिगड़ने की समस्‍या -अगर आप रात में चोटी बना कर सोती हैं तो इससे आपके बालों का शेप भी बिगड़ जाता है। आपके बालों में वेव्‍स बन सकती हैं, जिससे बाल दिखने में खराब लग सकते हैं। खासतौर पर अगर आप हाई पोनिटेल बनाकर रात में सोती हैं तो आपके क्राउन एरिया के बाल उठे हुए से नजर आते हैं। ऐसे में बाल आसानी से सेट नहीं होते हैं।

गंजेपन की शिकायत- कई मामलों में देखा गया है कि जो महिलाएं रात में चोटी करके सोती हैं, उन्‍हें Alopecia की शिकायत हो जाती है। यह स्‍कैल्‍प से जुड़ी समस्‍या है, जिसमें एक निश्चित स्‍थान से बाल गायब होना शुरू हो जाते हैं। स्‍कैल्‍प पर पैचेस पड़ने लगते हैं और बाल जड़ों सहित झड़ना शुरू हो जाते हैं। देखा जाए तो यह गंजेपन की निशानी है। इसलिए रात में चोटी करके सोने को ठीक नहीं माना जाता है।

स्‍कैल्‍प में होता है दर्द- जब आप चोटी बना कर रात में सोती हैं तो इससे बाल खिंचते हैं, जिससे स्‍कैल्‍प में इंफ्लामेशन होने के कारण सिर में दर्द भी हो सकता है। कई बार गीले बालों के साथ सोना भी सिर दर्द का कारण बनता है। अगर आपको रात में बालों को बांध कर ही सोना है तो आपको उन्‍हें बहुत ही ढीला बांधना चाहिए। आप पोनीटेल की जगह ढीली गुथी हुई चोटी करेंगी तो यह आपके बालों की सेहत के लिए ज्‍यादा बेहतर होगा।

बाल हो जाते हैं ड्राई – बालों को रात में बांध कर सोने से वह ड्राई भी हो जाते हैं। दरअसल, रात में सोने के दौरान बॉडी में ऑक्‍सीजन का प्रवाह और ब्‍लड सर्कुलेशन तेज हो जाता है। अगर आप बालों को बांध कर सोती हैं तो जाहिर है बालों तक न तो सही तरह से ऑक्‍सीजन पहुंच पाती है और न ही स्‍कैल्‍प पर ब्‍लड सर्कुलेशन सही तरह से हो पाता है। ऐसे में बालों का डिहाइड्रेटेड होना आम बात है।

आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं ऐसी ही नई नई जानकारी पाने के लिए हमें फ़ॉलो जरूर करें।

Join The Discussion