कोरोना वायरस : देश मे ओमिक्रॉन वैरिएंट के मिले इतने केश, 91 % लोगो ने लगवाई वैक्सीन की दोनो डोज

देश मे दिन पर दिन ओमिक्रॉन वैरिएंट के केश बढ़ते ही जा रहे है। भारत में कोरोना वायरस के ओमिक्रॉन वैरिएंट के अबतक 358 मामले सामने आ चुके हैं अब तक जिन 183 मामलों का विश्लेषण किया गया उनमें से 121 में यह बात साफ हुई है कि इन्होंने विदेश यात्रा की थी।

Corona
Corona

उक्त जानकारी आज स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रेस कॉन्फ्रेंस में सचिव राजेश भूषण ने दी।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यह बताया गया है कि ओमिक्रॉन के 183 मामलों जिनका विश्लेषण किया गया है उनमें से 91 प्रतिशत मरीजों ने टीके की दोनों खुराक ली है इनमें से तीन मरीज ऐसे हैं जिन्होंने बूस्टर डोज भी लिया था इन लोगों में से 70 प्रतिशत लोगों में किसी तरह के लक्षण नहीं दिख रहे हैं वहीं संक्रमित लोगों में से 61 प्रतिशत पुरुष हैं।

देश में आ चुके हैं ओमिक्रॉन के 358 मामले
संक्रमितों में से 91 प्रतिशत ने ली है वैक्सीन की दोनों डोज
स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से यह बताया गया है कि विश्व में कोविड 19 की चौथी लहर विश्व में चल रही है वहीं संक्रामकता की दर 6.1 प्रतिशत है ऐसे में कोरोना प्रोटोकॉल का उल्लघंन किसी भी सूरत में नहीं किया जा सकता है।

डब्ल्यूएचओ का हवाला देते हुए कहा स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि डेल्टा की तुलना में ओमिक्रोन वैरिएंट ज्यादा तेजी से फैल रहा है और इसके मामले 1.5 से तीन दिन में दोगुना हो रहे हैं।

राजेश भूषण ने कहा कि अभी देश में पांच ऐसे राज्य हैं जो चिंता की वजह हैं जिनमें केरल, महाराष्ट्र, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और कर्नाटक शामिल है ओमिक्रॉन के इलाज के लिए वहीं ट्रीटमेंट प्रोटोकॉल है जो डेल्टा वैरिएंट के लिए था केरल और मिजोरम में कोविड-19 मामलों की संक्रमण दर राष्ट्रीय औसत से कहीं अधिक है, जो चिंता का कारण है।

केंद्र सरकार ने कहा कि देश के 20 जिलों में कोविड-19 की साप्ताहिक संक्रमण दर 5 से 10 प्रतिशत के बीच, दो जिलों में 10 प्रतिशत से अधिक है भारत में अभी तक मुख्य स्वरूप डेल्टा ही बना हुआ है, इसलिए कोविड प्रोटोकॉल का पालन और वैक्सीनेशन को बढ़ाये जाने की सख्त जरूरत है।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *