अगले 5 दिनों में हो सकती है भारी बारिश , मौसम विभाग से मिली चेतवानी

आज हम आपको बहुत ही खास जानकारी दे रहे है
वर्षा एक प्रकार का संघनन है। पृथ्वी के सतह से पानी वाष्पित होकर ऊपर उठता हैऔर ठण्डा होकर पानी की बूंदों के रूप में पुनः धरती पर गिरता है।

अब मानसूनी बारिश का सीजन अंतिम पड़ाव पर चल रहा है, लेकिन जाते-जाते भी मौसम लोगों के लिए आफत बन सकता है। देश के कई हिस्सों में मंगलवार को भारी बारिश दर्ज की गई है। कहीं आंधियां चलीं तो कहीं बादलों की गड़गड़ाहट से लोग सहमे रहे। इस बीच मौसम विभाग ने यूपी समेत देश के कई राज्यों में अगले पांच दिनों तक आंधी-पानी की संभावना जताई है।

जानकारी के मुताबिक, मॉनसून के मौसम में इस साल 15 प्रतिशत से ज्यादा बारिश दर्ज की गई। अंतिम चरण मे देश के कई हिस्सों में एक बार फिर मानसून सक्रिय हो गया है।

मौसम विभाग ने अनुमान जताया है कि 22 सितंबर से लेकर 26 सितंबर तक देश के अलग-अलग हिस्सों में चमक-धमक के साथ तेज बारिश और आंधियों की संभावना है।

24 सितंबर को इन राज्यों में बिजली चमकने के साथ बारिश

पूर्वी यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, मेघालय, गुजरात, असम, मध्य महाराष्ट्र, कोंकण, गोवा, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी और करईकल में भारी बारिश के साथ बिजली चमकने की संभावना जताई गई। दक्षिण-पश्चिम अरब सागर इलाके में 44-55 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी।

25 सितंबर को इन राज्यों में बारिश की आशंका

मौसम विभाग के मुताबिक चौथे दिन 25 सितंबर को बिहार के अलावा पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और सिक्किम के अलग-अलग इलाकों में तथा ओडिशा, असम, मेघालय और तेलंगाना में तेज बारिश होने के आसार हैं। इसके अलावा दक्षिण पश्चिम अरब सागर में तेज हवाएं चलेंगी।

26 सितंबर को यहां बंपर बरसा की उम्मीद

मौसम विभाग ने बताया कि बुधवार को असम, मेघालय और पूर्वी उत्तर प्रदेश, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, गुजरात रीजन, कोंकण, गोवा, उत्तराखंड, पूर्वी राजस्थान, पूर्वी मध्य प्रदेश, झारखंड, अरुणाचल प्रदेश नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, मध्य महाराष्ट्र, तमिलनाडु और पांडिचेरी में बहुत तेज बारिश के आसार हैं।

आपको कैसी लगी जानकारी हमें जरूर बताएं ऐसी ही नई नई जानकारी पाने के लिए हमें फ़ॉलो जरूर करें।

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *